Sat. Jul 20th, 2024

Dwarakish का निधन: कन्नड़ फिल्म उद्योग को लगा तगड़ा झटका ?

Theabhitomar By Theabhitomar Apr16,2024
DwarakishDwarakish

दिग्गज कन्नड़ अभिनेता Dwarakish  का निधन: कन्नड़ फिल्म उद्योग को लगा तगड़ा झटका

अनुभवी अभिनेता और निर्माता ने दशकों तक इंडस्ट्री में छोड़ा अपना प्रभाव

कन्नड़ फिल्म उद्योग के दिग्गज अभिनेता और निर्माता Dwarakish का आज निधन हो गया है। वह 86 वर्ष के थे। कन्नड़ा सिनेमा में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। द्वारकीश एक बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे जिन्होंने अपने करियर में खलनायक, हास्य कलाकार और चरित्र अभिनेता के रूप में शानदार प्रदर्शन दिया।

  • एक विरासत छोड़कर गए: द्वारकीश ने 5 दशक से अधिक समय तक कन्नड़ फिल्म उद्योग में काम किया और 200 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया। उन्होंने कई फिल्मों का निर्माण भी किया और निर्माता के रूप में भी सफल रहे।
  • कई पुरस्कारों से सम्मानित: उनके शानदार अभिनय के लिए उन्हें कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया, जिसमें कर्नाटक राज्य फिल्म पुरस्कार और फिल्मफेयर अवार्ड South शामिल हैं।
  • अंतिम संस्कार कल होगा: सूत्रों के अनुसार, उनका अंतिम संस्कार कल उनके निवास पर किया जाएगा।

Dwarakish का फिल्मी सफर

द्वारकीश का जन्म कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले में हुआ था। उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1960 के दशक में की थी। उन्हें पहली सफलता फिल्म “कावेरी” (1965) से मिली थी। इसके बाद उन्होंने कई सफल फिल्मों में काम किया, जिनमें “संಪत्तिगे सवाal” (1964), “कात्तुल्ला राधा” (1976), “चली सुলি सुলি” (1982), “अपूर्व रागा” (1985) और “गजन” (2004) शामिल हैं।

  • Dwarakish  के बारे में यह कहना गलत नहीं होगा कि वह कन्नड़ फिल्मों के हर रंग में घुलने वाले कलाकार थे।
  • उन्होंने अपने करियर में खलनायक, हास्य कलाकार, चरित्र अभिनेता और कभी-कभी सहायक अभिनेता के रूप में भी शानदार भूमिकाएँ निभाईं।
  • वह एक ऐसे अभिनेता थे जो किसी भी भूमिका को सहजता से निभा लेते थे।

निर्माता के रूप में Dwarakish

द्वारकीश न केवल एक सफल अभिनेता थे बल्कि एक कुशल निर्माता भी थे। उन्होंने अपनी प्रोडक्शन कंपनी “द्वारकीश चिತ್र” की स्थापना की और कई सफल फिल्में बनाईं, जिनमें “चंद्र हास” (1977), “सावधान!” (1984) और “सूर्यवंश” (1992) शामिल हैं।

कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री को हुआ भारी नुकसान

  1. Dwarakish  के निधन से कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री को भारी नुकसान हुआ है।
  2. वह एक ऐसे अभिनेता थे जिन्होंने दशकों तक दर्शकों का मनोरंजन किया।
  3. उनका निधन न केवल कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री बल्कि पूरे भारतीय सिनेमा के लिए एक बड़ी क्षति है।

फिल्मी हस्तियों ने जताया शोक

  • द्वारकीश के निधन पर फिल्म इंडस्ट्री के कई हस्तियों ने शोक व्यक्त किया है।
  • कन्नड़ सुपरस्टार रविचंद्रन ने ट्वीट कर कहा, “Dwarakish जी के निधन का समाचार सुनकर गहरा दुख हुआ।
  • उन्होंने कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री में अमूल्य योगदान दिया है।
  • उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं।”
  • अभिनेता शिवराजकुमार ने भी ट्वीट कर कहा, “द्वारकीश जी के निधन से बहुत दुखी हूं।
  • वह लीजेंड थे जिन्होंने हमें कई यादगार फिल्में दीं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति

Stay Tuned with Jansamuh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *